यहां गंगा के साथ हैं शिव, जलधारा से स्वंय होता है अभिषेक

Tuti Jharna Mandir, mysterious Shiva temple》जीवन दर्शन Desk: हर मंदिर का अपना ही अलग महत्व औऱ रहस्य होता है। दुनियाभर में भगवान शिव के ऐसे ही अनेक रहस्यमयी और चमत्कारी मंदिर है। कई मंदिरों के रहस्य आज तक भक्तों के लिए आश्चर्य का केन्द्र बना हुआ है। इन्हीं मंदिरों में से एक मंदिर है भगवान शिव का टूटी झरना मंदिर।

यह मंदिर झारखंड में रामगढ़ से 8 किमी की दूरी पर स्थित है। भगवान शिव को समर्पित यह मंदिर बहुत ही अद्भुद है क्योंकि यहां भगवान के शिवलिंग का जलाभिषेक कोई और नहीं बल्कि स्वयं देवी गंगा करती हैं। सदियों से देवी गंगा निरंतर शिवलिंग पर जलधारा बहाती रहती है।

Gallery के फोटोज़ छूकर अंदर स्लाइड्स में पढि़ए क्या है इस मंदिर के रहस्य..

यह भी पढें: यह है मुर्गा महादेव मंदिर, नाम के पीछे है इसकी एक रोचक कहानी
यहां है भगवान शिव का प्राकृतिक शिवलिंग, सूरज की रोशनी में हो जाता है सुनहरा
दिन में तीन बार रंग बदलता है ये शिवलिंग, यहां आने से हो जाती हैं कुवारों की शादी
यहां हिंदु नहीं मुसलमान भी करते हैं शिव पूजा, महमूद गजनवी हुआ था असफल

नोट: Vijayrampatrika.com महाशिवरात्रि (25Fub, 2017) के अवसर पर आपको भगवान शिव की साधना, कृपा और उनके परिवार से संबंधित आर्टिकल्स देगा। ताजा न्यूज अपडेट्स के लिए fb.com/vijayrampatrika पर बने रहें।

Categories: 》जीवन दर्शन | Tags: | Leave a comment

दुनिया के 10 सबसे बड़े चर्च, निहारिए, शानदार है इनका BASILICA

ये हैं दुनिया के 8 सबसे खूबसूरत चर्च, इनका Architecture है बड़ा अनूठा》जीवन दर्शन Desk: वैसे तो धर्म कोई भी हो ईश्वर की ईबादत के लिए किसी बड़ी इमारत की जरूरत नहीं है, क्योंकि ईबादत दिल से की जाए तो ईश्वर उसे जरूर कबूल करता है। चाहे वो कहीं भी कै से भी की जाए। फिर भी ईश्वर की ईबादत के लिए खूबसूरत इबादतगाह बनाने की परंपरा दुनिया में सदियों पुरानी है। यह परंपरा हर धर्म के लोगों में है।
हिन्दू जहां मंदिर में प्रार्थना करते हैं, वहीं मुस्लिम मस्जिद में तो सिख गुरुद्वार में तो ईसाई चर्च में फरियाद लगाते है। 25 दिसंबर को क्रिसमस, ईसाईयों का सबसे बड़ा त्योहार है। यह प्रभु यीशु के जन्मोत्सव के रूप में 24 दिसंंबर की मध्यरात्रि से ही 31 दिसंबर तक मनाया जाता है। इस मौके पर

Vijayrampatrika.com आपको दिखा रहा है दुनिया के 10 सबसे बडे़ और आकर्षक चर्च। जहां हजारों लोग जुटते हैं…

1. बैसिलिका ऑफ आवर लेडी ऑफ पीस, येमोसॉक्रो
Basilica of Our Lady of Peace, Yamoussoukro (Côte d’Ivoire)
यह चर्च पश्चिम अफ्रीका के कोट् डी आइवर देश की राजधानी यामौस्सोक्रो में स्थित है। गिनीज वर्ल्ड रिकॉर्ड्स के मुताबिक यह दुनिया में सबसे बड़ा क्रिश्चियन चर्च है। 30,000 मीटर स्कवायर (322,917 वर्ग फुट) में फैले ‘लेडी ऑफ पीस’ बासीलीक की ऊंचार्इ 158 मीटर (518 फीट) फीट है। हालांकि, पूरा क्षेत्र इसका नहीं है, एक विला भी शामिल है। इसमें 18,000 वारशिपर्स एक साथ आ सकते हैं। 1990 में कंप्लीट हुए इस चर्च के निर्माण में 300 मिलियन यूएस डॉलर का खर्च आया। ·ctbuh.org

दुनिया के अन्य विशाल गिरजाघरों के बारे में जानने के लिए फोटोज छूकर अंदर स्लाइड्स में पढें…..
यह भी पढें: ये हैं इंडिया के मोस्ट ब्यूटिफुल churches, दिखते हैं विदेशों जैसे
इस शहर में लगता है क्रिसमस का सबसे बड़ा मेला, महीनों पहले से तैयारी

Categories: 》TOP 10 | Tags: | Leave a comment

क्रिसमस संग न्यू ईयर पार्टी के लिए बेस्ट हैं इंडिया के ये 5DESTINATION

Christmas Celebration With New Year Is Fantastic Idea So Plan These 5 Indian Destination For Party.》WORLD TOURISM Desk: क्रिस्मस का फेस्टिवल न्यू ईयर के बहुत ही करीब होता है जिसके चलते अधिकतर लोग कोशिश करते हैं किसी ऐसी जगह सेलिब्रेट करने की जिससे एक साथ दोनों काम हो जाए। तो अगर आप भी ऐसा ही सोचते हैं तो प्लान बनाएं ऐसी जगहों का, जहां शांति और सुकून के साथ क्रिसमस और न्यू ईयर को एन्जॉय किया जा सकता है।

List of Top 5 Best & Famous Churches in India
इंडिया में इसके लिए वैसे तो बहुतेरे डेस्टिनेशन्स हैं, लेकिन उनमें से 5 तो इन्हीं दो इच्छाओं को पूरा करने के लिए। जैसे कि गोवा के बीच और उत्तराखंड में हिल स्टेशन नियर चर्च। यहां शांत से चर्च में जाकर प्रार्थना करने और उसके बाद वहां के नजारों का मजा लेने के लिए बेस्ट हैं ये सारी जगहें। ये चर्च इतने खूबसूरत हैं कि इन्हें देखकर यूरोपियन चर्चों का अहसास होता है।

1. सेंट जॉन चर्च, नैनीताल
St. John Church Nainital
सेंट जॉन चर्च इन वाइल्डरनेस, एक शांत जगह है जो मल्लीताल (नैनीताल के उत्तरी छोर) में स्थित है। इस चर्च को जंगल में सेंट जॉन के रूप में भी जाना जाता है। यह चर्च 1880 के भूस्खलन में शिकार हुए लोगों के एक स्मारक के रूप में भी कार्य करता है, जहां एक पीतल की पट्टिका में शिकार हुए लोगों का नाम लिखा हुआ है। नैनीताल भली-भांति देश के विभिन्न भागों से सड़क, रेल और वायु मार्ग से जुड़ा हुआ है।

क्रिसमस एंड न्यू ईयर सेलिब्रेशन के लिए फेमस अन्य डेस्टिनेशंस के लिए छुएं फोटोज, अंदर स्लाइड्स में पढें....
Other news: न्यू ईयर सेलिब्रेशन के लिए घूम सकते हैं ये 10 जगहें
दुनिया के 10 सबसे खूबसूरत चर्च, किसी का लुक मंदिर सा तो कोर्इ दिखता है महल जैसा

Categories: 》TOURISM | Tags: | Leave a comment

ठीक नहीं लगातार बुरे सपनों का दिखना, इस 1 मंत्र से बदल जाएगा उनका प्रभाव

बुरे सपनों से उबरने के लिए आजमायें ये ... 》जीवन दर्शन Desk: सपने सभी को दिखाई देते हैं। उनमें से कुछ सपने अच्छे यानी खुशी देने वाले होते हैं, जबकि कुछ डरा देते हैं। कई लोगों को लगातार सपने आते रहते है, जिसकी वजह से वे डरे-डरे रहने लगते हैं। एस्ट्रोसेज के मुताबिक, अर्द्घशयन में दिखने वाले ख्वाब (कल्पना) सपने ही माने गए हैं, जब किसी को अत्यधिक बुरा फील होने लगे तो उस व्यक्ति की दिनचर्या में भी बुरा परिवर्तन आने लगता है। ऐसा बिल्कुल भी ठीक नहीं है चूंकि कुछ मृत्यु के समान सूचक भी होते हैं।

महिला और बच्चे हो उठते हैं व्यथित
Bad dreams? Chant this mantra before you go to bed
अक्सर दिखने वाले खराब स्वप्नों से व्यस्क तो कम लेकिन बच्चे और वुमंस अधिक उदास होते हैं। सुबह उठते ही उन्हें बुरी आशंका घेर लेती हैं। जैसे भूत या चुडैल का दिखना, रात को अकेले सोए हों तो जरा सी झपकी लगते ही अन्य बुरे दृश्य दीखना। आदि बुरे सपने हो सकते हैं। लेकिन प्राचीन शास्त्रों में ऐसी समस्याअों का निवारण बताया गया है। दुस्वप्न बार-बार न आए इसके लिए कई उपाय बताए हैं। अग्निपुराण में लिखा है-

अद्यानो देव! सवितज्र्ञेयं दु:स्वप्ननाशनम्।
(अ.पु. 261.5) अर्थात्
‘अद्या नो देव सवित:’

क्याें जपें ये मंत्र
उपर्युक्त वेदमंत्र के जप से दुस्वप्न नहीं आते हैं और जप करने वाले को अच्छी व गहरी नींद आती है। एकाग्रता पाने और मानसिक शांति के लिए भी इस मंत्र का उपयोग किया जा सकता है। आज की जीवनशैली के चलते ज्यादातर लोग अनिद्रा और खंडनिद्रा (बार-बार नींद का का उचटना) के शिकार हैं। इन दोषों को दूर करने में भी यह मंत्र खासा उपयोगी रहेगा। रात्रि में सोते समय ग्यारह बार निम्नलिखित मंत्र का उच्चारण करना लाभ देता है।

अद्या नो देव सवित:
प्रजावत्सावी: सौभाग्यम।
परा दु:स्वप्न्यं सुव।।

फोटो छुएं और अंदर स्लाइड में पढें क्या है इस मंत्र का अर्थ, कैसे दूर होंगी आपकी चिंताएं……..…..

Categories: 》जीवन दर्शन | Tags: | Leave a comment

OMG : ये है भुतहा रेलवे स्टेशन, 41 सालों में ही हो गया था बंद, जानें क्यों?

Ghost Subway Stationभूत-प्रेतों की कहानियां और उनसे जुड़ी घटनाएं आए दिन सुनने को मिलती रहती है। कभी किसी खंडहर में तो कभी महल, बावड़ी या फिर अस्पताल में आत्माओं का वास होने की खबरें आती हैं। ऐसी एक खबर न्यूयॉर्क के सब-वे रेलवे स्टेशन के बारे में है। कहा जाता है कि इस आलीशान सब-वे रेलवे स्टेशन को सिर्फ इसलिए बंद कर दिया गया, क्योंकि यहां भूतों का डेरा था। लेकिन आधिकारिक तौर पर इसे बंद करने की वजह इसकी घुमावदार पटरियां और खतरनाक मोड़ थे।

बता दें कि सिटी हॉल सब-वे रेलवे स्टेशन न्यूयॉर्क के ब्रुकलिन ब्रिज स्टेशन के पास है, जिसे खोलने के 41 सालों में बंद कर दिया गया। यह स्टेशन अब सिर्फ शो पीस बनकर रह गया है। उल्लेखनीय है कि स्टेशन को बनाने में काफी समय लगा और इसे बहुत ही खूबसूरत तरीके से डिजाइन किया गया था, लेकिन इसके अंदर बनी घुमावदार पटरियां और मोड़ इतने खतरनाक थे कि इन्हें गाड़ियों के लिए असुरक्षित माना गया। अंततः अधिकारियों द्वारा निर्णय लिया गया कि इसे बंद कर दिया जाए।

इस स्टेशन को वैलेंशियन आर्किटेक्ट राफेल गोस्ताविनो द्वारा डिजाइन किया गया था, जो अपने आप में यूनिक था। सबसे पहले 27 अक्टूबर 1904 में इस सब-वे स्टेशन पर चलने वाली गाड़ी पर फाइनेंसर्स और अधिकारी सवार हुए। इस दौरान बड़ी संख्या में प्लेटफॉर्म पर पुलिसकर्मी सुरक्षा के लिए खड़े थे। हालांकि, 41 साल बाद 1945 में बंद कर दिया गया। देखें एक बड़ी तस्वीर में न्यूयॉर्क का सब-वे रेलवे स्टेशन …

Categories: OMG | Tags: | Leave a comment

Create a free website or blog at WordPress.com.

%d bloggers like this: