Posts Tagged With: BRIDGE

नीली-पीली नहरों का देखें यहां फ्लो, दुनिया के खूबसूरत 10 BRIDGES

नीली-पीली नहरों का फ्लो देखने का शौक करें पूरा, दुनिया के खूबसूरत 10 BRIDGES》WORLD TOURISM Desk: भारत में ‘स्मार्ट सिटी’ डेवलप करने का सरकार का प्लान, काफी समय से लोगों की एविडिटी में है। साफ-सुंदर सड़कें होंगी, नहरों पर खुले ब्रिज होंगे, हर इलाके में पानी का फ्लो समान होगा.. आदि बातें अक्सर सुनी जाती हैं। वास्तव में ब्रिज बिना किसी वर्ल्ड वायरड शहर की कल्पना करना मुश्किल है, चूंकि ये वह जरिया हैं जिन्हें नदी, नालों और खतरनाक सड़कों को पार करने के लिए इंसान ने अपनी मेहनत और सृजनात्मक शक्ति से गढ़ा है।

Vijayrampatrika.com आज़ आपको ले रहा है दुनिया के चुनिंदा कुछ ऐसे ब्रिजेज़ पर टहलाने, जहां लगे कि हां इंडिया में ऐसी ही होनी चाहिए स्मार्ट सिटी। बेशक पुल हमारे लगभग हर शहर-कस्बे में देखे जाते हैं, लेकिन नीली-पीली बहती नहरों पर इनकी संरचना ज्यादा ही मनमोहक लगती है……..

1. खाजू ब्रिज, ईरान
Khaju Arch Bridge, Iran
रेगिस्तान में जहां पानी के लिए किल्लत रहती है, अगर वहां शान से बहती कोर्इ नदी हो, उस पर झूलता ब्रिज हो तो आश्चर्य होना लाजिमी है। ईरान के इस्फान शहर में एक ब्रिज अपनी वास्तुशिल्प के लिए दुनिया में मशहूर है। इसकी बनावट साधरण पुलों जैसी नहीं है। यह महल या बावडी़ जैसा दिखता है। 1650 ई. में बना यह पुल 133 मीटर लंबा है, जिसमें 23 मेहराब भी हैं। प्रारंभ में फारस के बादशाहों ने इसका निर्माण घोंडों व बैलगाडियों को नदी पार कराने के लिए कराया था। आज सिंचार्इ करने और बाढ़ के संभावित खतरे को रोकने में इस पुल की महती भूमिका है। पुल पर दो अष्ठभुजाकार पैविलियम बने हैं, जहां से इसकी खूबसूरती को सुकून से निहारा जा सकता है।

अन्य अमेजिंग पुलों के बारे में जानने के लिए छुएं फोटोज़, अंदर पढें स्लाइड्स में…....

Advertisements
Categories: 》TOP 10 | Tags: | Leave a comment

यहां बन रहा है दुनिया का सबसे ऊंचा रेल ब्रिज, धनुषाकार में आएगा नजर

India building world’s highest railway bridge》दुनियां 360° news Desk: कश्मीर में हिमालय की दुर्गम चोटियों पर भारतीय इंजीनियर रेलवे के एक ऐसे प्रोजेक्ट को पूरा करने में जुटे हैं जो दुनिया में अलग ही मानक स्थापित करेगा। बाढ़, बर्फ और तेज हवाओं को टक्कर देता यह सपना है सबसे धनुषाकार में बन रहे सबसे ऊंचे ब्रिज का। जिसके डेढ़ दशक बाद 2016 में पूरा होने की उम्मीद है।

J & K में बन रहा है दुनिया का सबसे ऊंचा रेलवे पुल
INDIA BUILDING WORLD’S HIGHEST RAILWAY BRIDGE
कौड़ी | जम्मू-कश्मीर में चिनाब नदी पर बक्कल और कौरी के बीच में खूनी दरिया पर बन रहा यह पुल कोंकण रेलवे द्वारा तैयार किया जा रहा है। सरकार ने इसे ‘चेनाब परियोजना’ नाम दिया है और यह ब्रिज इंजीनियरिंग की सबसे जटिल परियोजनाओं में से एक है। निर्माण कार्य में सेना भी सहयोग दे रही है। सेना के हेलिकॉप्टर के जरिए ही ट्रक, जेसीबी और खुदाई की मशीनें लाई गई हैं।

वर्ल्ड फेमस एफिल टॉवर भी पड जाएगा नीचा
योजना के पूरे होने पर यह दुनिया का सबसे ऊंचा रेलवे ब्रिज कहलाएगा। इसकी ऊंचार्इ 359 मीटर होगी, जोकि फ्रांस की राजधानी पेरिस में स्थित एफिल टॉवर की तुलना में 35 मीटर अधिक होगी। इतना ही नहीं, इस ब्रिज की ऊंचार्इ भारत की सबसे ऊंची इमारत कुतुबमीनार के पांच गुना बराबर भी है। निर्माण कार्य पूरा होने के बाद दुनिया के मौजूदा सबसे ऊंचे रेलवे पुल बेइपानजियांग-ब्रिज (275m) का रिकॉर्ड भी टूट जाएगा, जो कि चीन गीझू प्रांत में नदी पर बना है।

2002 में शुरू हुआ था काम
इस पुल का निर्माण 2002 में शुरू किया गया था लेकिन हवा के तेज बहाव के चलते 2008 में इस प्रोजेक्ट को रोक दिया गया। इसके बाद 2009 में भी सुरक्षा कारणों से स्थिगित रहा। फिर 2010 में यह ब्रिज का निर्माण एक बार फिर शुरू हुआ। कहा जा रहा है कि 1,315 मीटर लम्बे पुल को बनाने में 25,000 टन से भी अधिक स्टील लगेगा। प्रोजेक्ट की संभावित लागत नौ करोड़ 20 लाख अमेरिकी डॉलर है।

फोटोज़ छूकर अंदर स्लाइड्स में पढें…-सवा सौ साल होगी ब्रिज की औसत उम्र, घट जाएगा सैकडों किमी का रास्ता
– 100KM/h की रफ्तार से दौडेगी ट्रेन, यात्री को करना पडेगा 250 किमी प्रति घंटे की स्पीड से हवा का सामना!
– कैसे झेल सकेगा भूकम्पीय गतिविधियों तथा बेहद तेज़ बहाव वाली हवाओं को? वीडियो मेें देखें।

Categories: 》BHARAT | Tags: | 1 Comment

भारत में बन रहा है सबसे ऊंचा रेल ब्रिज, देखें दुनिया के 10 HIGHEST

World's tallest railway bridge built in India ! 》दुनियां 360° news Desk: आने वाले दौर में इंडियन रेलवे नर्इ ऊंचार्इयां छूने को तैयार है, जब हम वर्ल्ड के सबसे ऊंचे ब्रिज पर सफर का लुत्फ उठाया करेंगे। दिल्ली, मुंबर्इ और जयपुर जैसे महानगरों में मेट्रो चलने के बाद सरकार की नजरें अब दो बडे़ प्रोजेक्ट पर हैं। एक चिनाब नदी के ऊपर 359 मीटर ऊंचे ब्रिज का निर्माण और दूसरा 2019 तक अहमदाबाद और मुंबर्इ के बीच बुलेट ट्रेन की शुरुआत करना।

एफिल टावर से भी ऊंचा होगा चेनाब ब्रिज
Chenab Bridge The Upcoming World’s Highest Rail Bridge
दिसंबर में रेलवे ने अपने ट्वीटर पर कहा कि जम्मू-कश्मीर में चिनाब नदी के ऊपर बन रहा रेल ब्रिज 2016 में बनकर तैयार हो जाएगा। प्रोजेक्ट को कोंकण रेलवे कॉरपोरेशन देख रहा है और संभावित लागत 512 करोड़ आएगी। इसकी ऊंचार्इ 359 मीटर होगी जोकि एफिल टावर से 35 मीटर अधिक है। ये ब्रिज चिनाब नदी पर बक्कल और कौरी के बीच में निर्माणाधीन है, जिसकी कुल लेंग्थ 1315 मीटर होगी।

8.0 तीव्रता वाले भूकंप से भी नहीं हिलेगा
एक इंफोग्राफिक के जरिए रेलवे ने इस पुल की डिजाइन का फोटो भी जारी किया, इसके मुताबिक रिक्टर स्केल 8 तीव्रता का भूकंप भी इसको कोई नुकसान नहीं पहुंचा सकेगा। इस ब्रिज को आर्क आकार में बनाया जा रहा है। इसके मुख्य आर्क को दो केबल्स क्रेन के जरिए नदी के दोनों किनारों से जोड़ा जाएगा। इस पुल में कुल 17 स्टील पिलर लगाए जा रहे हैं, जिसमें सबसे लंबे पिलर की ऊंचाई 133 मीटर होगी।

25,000 टन स्टील लगेगा
इस ब्रिज के निर्माण में 25 हजार टन स्टील के उपयोग होने का अनुमान है। डिजाइन और कंस्ट्रक्शन के हिसाब से भी यह बहुत महंगा पड रहा है, सबसे बड़ा चैलेंज नदी का बहाव है जिसकी वजह से पुल बनाने में काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है। इस पुल का निर्माण 2002 में शुरू किया गया था लेकिन हवा के तेज बहाव के चलते 2008 में इस प्रोजेक्ट को रोक दिया गया। माना जा रहा है कि पुल पर यात्रा करने वालों को 250 किमी प्रति घंटे की रफ़्तार से हवा का सामना करना पड़ेगा।

फोटोज छुएं और अंदर स्लाइड्स में दुनिया के 10 सबसे बडे रेल ब्रिज के बारे में पढें, जो कि...

Categories: 》TOP 10 | Tags: | Leave a comment

ये है बहुत खतरनाक यमन का पुल, 17 वीं सदी में पहाड़ियों को काटकर बना

Photos, Shaharah Bridges, The Bridges, Yemen, Places, Travel, Amazing Bridges, Eric Lafforgue, Shahara Bridgesयह अरब प्रायद्वीप का प्राचीन पुल है। देखने से लगेगा कि कैसी टूटी-फूटी इमारत है। इसे कौन देखना चाहेगा, लेकिन इस जगह का नाम दुनिया के सबसे खतरनाक व खूबसूरत टूरिस्ट स्पॉट्स में शामिल है। लाइमस्टोन का बना यह आर्क ब्रिज इतना मशहूर है कि हर वर्ष दुनियाभर से हजारों लोग इसे देखने आते हैं। कहा जाता है कि जैसे ही पर्वत की चोटी पर बसे गांव के लोगों को कोई खतरा महसूस होने लगता है तो वो तुरंत इस ब्रिज को ऐसे बंद कर देते हैं कि देखने वाले को लगता है जैसा यहां कभी कुछ नहीं था।

शहारा ब्रिज/Locations‎ of the shahara bridge yemen
इस ब्रिज को ब्रिज ऑफ साइट भी कहा जाता है। इस ब्रिज को 17वीं सदी में बनाया गया था। इसे बनाने का खास मकसद था। तुर्की से लोग लगातार यमन में घुसपैठ कर रहे थे। उनको बाहर रखने के लिए यह ब्रिज बना था। ब्रिज से जमीन के निचले स्तर की गहरार्इ कहीं-कहीं 300 फीट से भी अधिक है। XVII वीं शताब्दी में से ही विशाल खार्इ पहाडियों पर स्थित गांवों को अलग करती हैं। यमन में कई ब्रिज हैं, जिनकी मदद से पहाड़ी पर बसे गांव और शहरों को आपस में जोड़ा जाता है। यहां रहने वाले रोज़ इस ब्रिज को पार करते थे।

2160 मीटर तक है ऊंचार्इ
यमन की कैपिटल सना के नॉर्थ में यह जगह 163 किमी दूर है। सहार माउंटेन की कुल ऊंचार्इ 2,306 मीटर तक है जबकि ब्रिज भी दो हजार मीटर ऊंची ठेक तक जाता है। यहां जबल शहारा पर्वत की चोटी पर बसा गांव है शहारा। कभी यह जगह इमाम का ढेरा हुआ करता था। ऐसा कहा जाता है कि पहाड़ की चोटी पर स्थित गांव-किले में रहने वाले लोग महीनों तक खुद को दुनिया से अलग रख सकते हैं। हॉलीवुड फिल्मों के कर्इ शूट यहां लिए गए थे।

दिए गए फोटोज़ को छुएं और अंदर पढि़ए इस भयावह ब्रिज की खासियतों के बारे में…

Categories: 》दुनियां 360° | Tags: | Leave a comment

Create a free website or blog at WordPress.com.

%d bloggers like this: