Posts Tagged With: BUSINESS

World Architecture Day: ऐसे तैयार हुई थी दुनिया की सबसे ऊंची इमारत

Burj Khalifa》दुनियां 360° news Desk: बेजोड़ इंजीनियरिंग की बात बुर्ज खलीफा का जिक्र किए बिना पूरी नहीं हो सकती। दुनिया की सबसे ऊंची इमारत का खिताब अपने नाम करने वाली दुबई की ये बिल्डिंग विजनरी आइडिया और साइंस का बेहतरीन कॉम्बिनेशन है।
इसके अलावा दुनिया की सबसे ऊंची फ्रीस्टैंडिंग इमारत, सबसे तेज और लंबी लिफ्ट, सबसे ऊंची मस्जिद, सबसे ऊंचे स्विमिंग पूल और सबसे ऊंचे रेस्टोरेंट का खिताब भी बुर्ज खलीफा के नाम ही दर्ज है।

World Architecture Day
3 अक्टूबर यानी आज वर्ल्ड आर्किटेक्चर डे है। Vijayrampatrika.com इस मौके पर आपको दुनिया की कुछ खास स्ट्रक्चर्स के बारे में बताने जा रहा है, इस लेख में पढें मौजूदा सबसे ऊंची इमारत के बारे में।

Burj Khalifa Skyscraper in Dubai
828 मीटर (2,716.5 फीट) ऊंची इस इमारत में 160 फ्लोर हैं। इस बिल्डिंग का कंस्ट्रक्शन 2004 में शुरू होकर 2009 में पूरा हुआ। दुबई के डाउनटाउन में मौजूद इस बिल्डिंग को 2010 में पब्लिक के लिए खोला गया। इसका नाम यूएई के प्रेसिडेंट खलीफा बिन जाएद अल नाहयान के नाम पर रखा गया। यह इस्लामिक आर्किटेक्चर का बेहतरीन नमूना है।

दिए गए फोटोज़ छुएं और अंदर स्लाइड्स में पढें बुर्ज खलीफा के कंस्ट्रक्शन से जुड़े फैक्ट्स……
ये भी पढें: जयपुर की सबसे रंगीन इमारत है ये, केसरगढ़ की दिवाली लाइटिंग रहती बेस्ट
दुनिया की 10 सबसे शानदार इमारतें, नहीं बन सकतीं इनके जैसी

Advertisements
Categories: 》दुनियां 360° | Tags: | Leave a comment

क्या है ATM, कैसे निकालते हैं पैसा, क्या बरतें सावधानी, जानिए अभी

जानिए बैंक से कैसे मिलता है ATM को ट्रांजेक्शन का आदेश, फिर नोट..》दुनियां 360° news Desk: हाल ही में आरबीआई ने सभी बैंकों को अपने एटीएम में 50 रुपए के नोट रखना अनिवार्य किया है। आइए जानते हैं कैसे काम करता है एटीएम?

Atm machine working process
एटीएम एक तरह का डाटा टर्मिनल होता है, जिसमें इनपुट और आउटपुट डिवाइस होते हैं। यह होस्ट प्रोसेसर से जुड़ा होता है, जो बैंक और एटीएम के बीच कड़ी का काम करते हैं। यह प्रणाली टेलीफोन नेटवर्क की मदद से काम करती है। इससे यूजर एटीएम में कार्ड डालते ही बैंक के होस्ट प्रोसेसर से जुड़ जाता है। ऐसे में वह बिना बैंक जाए ही अपने खाते से पैसा निकाल सकता है।

इस ट्रांजेक्शन को ऐसे समझें
– हर ग्राहक के डेबिट या क्रेडिट कार्ड के पिछले हिस्से में एक खास मैग्नेटिक स्ट्रिप होती है, जिसमें उसकी पहचान संख्या व अन्य जरूरी जानकारियां कोड के रूप में होती हैं।
– जब ग्राहक कार्ड को एटीएम के कार्ड-रीडर में डालता है, तो एटीएम मैग्नेटिक स्ट्रिप में छिपी इन जानकारियों को पढ़ लेता है।
– यह जानकारी जब होस्ट प्रोसेसर के पास पहुंचती है, तो वह ग्राहक के बैंक से ट्रांजेक्शन का रास्ता साफ करता है।
– जब ग्राहक कैश निकालने का विकल्प चुनता है तो होस्ट प्रोसेसर और उसके बैंक अकाउंट के बीच एक इलेक्ट्रॉनिक फंड ट्रांसफर प्रक्रिया होती है।
– इस प्रक्रिया के पूरा होते ही होस्ट प्रोसेसर एटीएम को एक अप्रूवल कोड भेजता है। यह कोड एक तरह से मशीन को पैसा देने के आदेश के समान होता है।

बैंक से ऐसे मिलता है एटीएम को ट्रांजेक्शन का आदेशक्या आपको पता है ATM की फुलफॉर्म?
एक स्वचालित गणक मशीन, जिसे आटोमेटिक बैंकिंग मशीन, कैश पाइंट, होल इन द वॉल, बैंनकोमैट जैसे नामों से यूरोप, अमेरिका व रूस आदि में जाना जाता है। अंग्रेजी में इसे आटोमेटिड टैलर मशीन (Automated teller machine) कहते हैं। यह मशीन एक ऐसा दूरसंचार नियंत्रित व कंप्यूटरीकृत उपकरण है जो ग्राहकों को वित्तीय हस्तांतरण से जुड़ी सेवाएं उपलब्ध कराता है। इस हस्तांतरण प्रक्रिया में ग्राहक को कैशियर, क्लर्क या बैंक टैलर की मदद की आवश्यकता नहीं होती।

कैसे यूज करते हैं एटीएम और क्या बरती जानी चाहिए सावधानियां, जानने के लिए छुएं ये फोटोज और अंदर पढें स्लाइड्स में…..

Categories: 》TECH•STUDY | Tags: | Leave a comment

पहली बार ATM जा रहे हैं तो यहां सीख लें पैसे निकालना, देखें VIDEO

Hi, In this video you can see how to withdraw Money from State Bank of India ATM machine. If you have any trouble or you need any advice, please comment on it... I will help you. -www.vijayrampatrika.wordpress.com/?p=10780》दुनियां 360° news Desk: आजकल किसके पास टार्इम है कि बैंक जाए यहां तक कि गांवों में भी लोग बैंक क्वार्टर जाने के बजाए उससे दूर स्थित एटीएम जाना पसंद करते हैं। चूंकि ये है ही इतना सरल कि कोर्इ भेद तो पढ़ना पडता ही नहीं है, इसलिए बच्चा भी डेबिट कार्ड हाथ लगते ही पैसा निकाल लाता है।

लेकिन जनाब, बेशक एटीएम मशीन चलाना कहीं-कहीं बच्चों का खेल हो गया हो मगर जो पहली बार यूज करने जाते हैं, उन्हें मन में डर रहता है कि रहा-सहा काम न बिगड़ जाए.. कोर्इ ऊक- चूक बटन न दब जाए ! ऐसे में

Vijayrampatrika.com पर आज यहां जानिए आप एटीएम से पैसे निकालने की पूरी प्रक्रिया, हां इसके लिए अपना एटीएम कार्ड और पिन दन्न रखें। साथ ही किसी अपरिचित व्यक्ति से सतर्क भी…।

एटीएम पर ट्रांजेक्शन संबंधी बातें जानने के लिए यहां क्लिक कर सकते हैं?
ये भी पढें: क्या है एटीएम? भारत में कहां लगी इसकी पहली मशीन…
एटीएम मशीन यूज करने में क्या सावधानियां बरती जानी चाहिए? अब देखें वीडियो में कैसे निकालें पैसा…

कृपया ध्यान दें: यह वीडियो देखकर आप वैसे तो बहुत कुछ समझ गए होंगे, लेकिन बता दें कि भारत में सैकडों बैंक हैं और जिस बैंक का आपके पास कार्ड है उसका यूज किसी अन्य के एटीएम में करने के लिए प्रोसेस प्रक्रिया बदल जाती हैं। यहां आपको बताया गया है भारत के सबसे बडे़ बैंक ‘स्टेट बैंक ऑफ इंडिया’ से जुड़ा बुलेटिन। सेविंग अकाउंट वाला ही तरीका भी।

Categories: 》TECH•STUDY | Tags: | Leave a comment

ये इत्र है सबसे महंगा, बैन के बावजूद कम नहीं हुर्इ खरीदारी

The eye-watering prices of the following 10 most expensive perfumes and colognes in the world are influenced by the design of the bottle, ...Vijayrampatrika.com》दुनियां 360° news Desk: राजा-महाराजाओं की शानोशौकत से जुडी़ चीजों इत्र भी एक रहा है। आज दुनिया के शाही घरानों में एक से बढ़कर एक परफ्यूम मौजूद हैं। जिनकी कीमत हमारी आम जिंदगी में होने वाले संपूर्ण खर्च से भी ज्यादा है। खुशबू के बीच रहने का यह आलम बेशक, आजकल सभी के बीच ट्रेंड बन चुका है। आज यहां आपको हम बताने जा रहे हैं, भारतम में बनने वाले एक ऐसे इत्र के बारे में जिस पर प्रतिबंध लग गया, बिक्री नहीं रूकी।

उसकी मांग घटी, लेकिन फिर भी कीमत कान पकाऊ…

ये इत्र है सबसे महंगा
आपकी-हमारी दिनचर्या में शौकिए खातिर, सोने-चांदी ही महंगे हैं, लेकिन ऐसा नहीं है। ‘रूह गुलाब’ नामक इत्र, आभूषणों पर भी भारी पड़ सकता है। नर्इ दिल्ली सहित कर्इ एकांत ठौरों पर अब भी इसकी खुशबू आ रही है। जबकि हाल ही सरकार ने चंदन के तेल और इत्र के निर्यात पर बैन लगाया था। यह इत्र ‘गुलाब सिंह जौहरी मल’ के यहां निर्मित होता है। फर्म स्थापक (नाम नहीं बताया) के मुताबिक इसकी कीमत 18,000/10g है। यानी यह चांदी से तो महंगा है ही, कुछ साल पहले सोने से भी आगे रहा।

5 ग्राम इत्र बनाने में 40KG गुलाब लगता है
आजकल बाजार में लेडीज़्स परफ्यूम्स की कमी नहीं है, कौन-किस तरह ये इत्र है सबसे महंगा, बैन के बावजूद कम नहीं हुर्इ खरीदारीके केमिकल से बनता है, यह भी पता नही हैं। कर्इ प्रीमियम ब्रांड विशेष छूट भी देते हैं। लेकिन ‘रूह गुलाब’ इत्र तैयार करने वाली फर्म का दावा है कि ये एक दम प्योर है। यह इतनी मेहनत और सलीके से तैयार हो पाता है कि, गुलाबों का बगीचा एकबारगी पूरा खत्म हो जाता है। मात्र 5 ग्राम रूह गुलाब बनाने के लिए विशेष किस्म के 40 किलोग्राम गुलाबों की जरूरत पड़ती है।

अब नहीं मिलता आसानी से
कुछ साल पहले रूह गुलाब की छोटी सी डिब्बी आम बाजारों में आसानी से देखी जा सकती थी। इसमें छोटी सी ब्रश लगी होती थी। लेकिन अब यह नहीं मिलता है, विदेशी बाजारों में तो प्राय लुप्त हो चुका है। जबकि घरेलू मोर्चे पर कारोबार को विस्तार देने की इजाजत नहीं है।

यह भी पढें: दूध देने वाले बकरे को देखा है कभी? नहीं तो आइए इधर
ये है दुनिया का सबसे महंगा बर्गर, खाने का है मन तो जानिए अभी
जल्द आपके हाथ में होंगे 100 व 1000 रुपए के सिक्के, खासियतें

Categories: 》दुनियां 360° | Tags: | Leave a comment

इंडिया में बेस्ट ये हैं लग्जरी एंड टू लिव सिटी, यहां हर कोर्इ चाहे अपना घर

भारत के ये 5 शहर 'लग्जरी' और रहने के लिहाज से हैं बेहतर, सूरत है नंबर 1》दुनियां 360° news Desk: आप जानते ही हैं कि भारत दुनिया की तेजी से बढ़ती अर्थवव्यस्थाओं में से एक है। हालांकि, रहन-सहन के मामले में भारत अभी भी बहुत पीछे है। लेकिन, पिछले कुछ वर्षों में भारत के कई शहरों ने हेल्थ, इन्फ्रा, सेनिटेशन और एजुकेशन सिस्‍टम में अपने आपको काफी बेहतर बनाया है। ये शहर लग्जरी तो हो ही रहे हैं, आबादी भी तेजी से बढ़ रही है।

Vijayrampatrika.wordpress.com आपको आज़ भारत के ऐसे ही पांच शहरों के बारे में बताने जा रहा है, जो लग्जरी लाइफ और रहन-सहन के मामले में सबसे बेहतर हैं। जनाग्रह सेंटर फॉर सिटीजनशिप एंड डेमोक्रेसी ने अपनी सालाना सर्वे रिपोर्ट के आधार पर इन शहरों की सूची तैयार की है। इस सूची में लोगों के रहन-सहन को लग्जरी बताया गया है।

आइए जानते हैं कौन हैं पांच सबसे बेहतर शहर……

1. सूरत (गुजरात)
Surat city luxury
सूरत को दुनिया में डायमंड कैपिटल के नाम से भी जाना जाता है। हजारों की संख्या में लोग यहां के उद्योगों में काम करते हैं। सूरत विश्व में सबसे तेजी से ग्रोथ करने वाले शहरों में से एक है। सूरत को भारत में साफ-सुथरे शहर की लिस्ट में भी टॉप पर रखा गया है। इस कारण सूरत ने साफ-सफाई के मामले में 1995-96 में इंटैक अवॉर्ड जीता था और 2011 में इसी अवॉर्ड सूची में तीसरे स्थान पर रहा। जनाग्रह सेंटर फॉर सिटीजनशिप एंड डेमोक्रेसी की वार्षिक सर्वे रिपोर्ट में सूरत को भारत में रहने के मामले में सबसे अच्छे शहरों की सूची में पहला स्थान मिला है। यह कुल 326.5 km²क्षेत्र में फैला है, जबकि आबादी 6,079,231 है (2015)।

दिए गए फाेटोज़ छुएं और अंदर स्लाइड्स में जानिए इंडिया के अन्य बेहतर शहरों के बारे में…साथ ही पढें कि उनकी रैंक क्या है….
यह भी पढें: इंडिया के बेस्ट एयरपोर्ट, इनसे है शहरों का नाम आगे
भारत की 10 टूरिस्ट सिटी, जहां आते हैं ज्यादा विदेशी सैलानी

Categories: 》BHARAT | Tags: | Leave a comment

Blog at WordPress.com.

%d bloggers like this: