》TOURISM

400 फीट उंचाई पर है ये 500 साल पुराना किला, नीला नजर आता है पूरा शहर

MEHRANGARH FORT – JODHPUR, PHOTOS, HISTORY》WORLD TOURISM Desk: राजस्थान में कई ऐसे किले और महल हैं जो अपनी सुंदरता और वीरता से भरी कहानियों के कारण पर्यटकों में आकर्षण का केंद्र बने हुए हैं। इन्हें देखने दुनियाभर के लोग आते हैं, प्रदेश के पांच वर्ल्ड हैरिटेज फोर्ट्स में एक जोधपुर का किला भी है। करें इसकी भी सैर।

W_H_D spcl (विश्व धरोहर दिवस)
दुनिया भर में स्मारक और स्थलों के लिए 18 अप्रैल को वर्ल्ड हैरिटेज डे सेलिब्रेट किया जाता है। इस मौके पर Vijayrampatrika.com आपको ‘हैरिटेज इन इंडिया’ सीरीज़ के तहत बताएगा प्रमुख राष्ट्रीय धरोहरों के बारे में। आज़ की कडी़ में पेश है मेहरानगढ़ फोर्ट…..

कुतुब मीनार से भी ऊंचा है ये किला
Mehrangarh fort attractions
भारत में खडी़ धरोहरों में दिल्ली की कुतुबमीनार (73Meter) को सबसे ऊंचा कहा जाता है, लेकिन मेहरानगढ़ फोर्ट उससे भी अधिक ऊंचा है। दरअसल, यह किला जोधपुर में 120 मीटर ऊंची पहाडी़ पर स्थित है, जो 400 फीट तक हो जाता है। किले के परिसर में सती माता का मंदिर भी है। कहते हैं 1843 में महाराजा मानसिंह की मृत्यु होने के बाद उनकी पत्नी ने चिता पर बैठकर जान दे दी थी। यह मंदिर उसी की याद में बनाया गया। 1000 साल पहले बने इस किले जैसा हूबहू किला बहावलपुर सिंध पाकिस्तान में है जो किशनगढ़ के सामने पाकिस्तान की तरफ है।

इस किले के लिए हुर्इ थी पाक से जंग
जब 1965 में पाकिस्तान ने भारत पर आक्रमण किया तो उसकी सेना ने इसी दुर्ग में अपनी सीमा चौकी स्थापित की थी। जिसके बाद भारतीय सेना ने मुंहतोड़ जवाब देते हुए वापस खदेड़ दिया था। ताशकंद समझौते के तहत भारत ने भी पाक की जमीन वापिस कर दी। बता दें कि किले की खासियत यह है कि एक बार यहां जाने के बाद उसे खोजना काफी मुश्किल होता था।

फोटोज़ छुएं और अंदर स्लाइड्स में पढें मेहरानगढ़ की खास बातें विद् फोटो कैप्शन…

Advertisements
Categories: 》TOURISM | Tags: , | Leave a comment

Blog at WordPress.com.

%d bloggers like this: