मानसून लवर्स की पहली पसंद है मुल्लियान गिरि, इन दिनों आप यहां करें टूर

Mullayanagiri and Trip to Jog falls Shimoga and Kalhatti Falls, Kemmangundi Pictures》WORLD TOURISM Desk: मानसून शब्द सुनते ही टूरिस्ट के जेहन में साउथ इंडिया के डेस्टिनेशन याद आने लगते हैं। यहां एक राज्य कर्नाटक में मानसून का जो मजा है, वो साउथ की किसी भी दूसरी जगह पर नहीं। यहां चारों तरफ छाई हरियाली और भरपूर बारिश के कारण मौसम सुहाना बना रहता है। यहां वेस्टर्न घाट की चंद्र द्रोण पर्वत श्रृंखला में कई सारी चोटियां हैं, जो एडवेंचर लवर्स को काफी अट्रैक्ट करती हैं। यहां की नेचुरल ब्यूटी गजब की है।

Vijayrampatrika:Com आज आपको वेस्टर्न घाट की कुछ हिल्स एंड चोटियों की सैर पर ले चल रहा है। जिनकी प्राकृतिक छवि दिखते ही, वहां टाइमपास करने की इच्छा होती है, झरने दिलकश हैं तो हैरिटेज से भी अलग ही हैप्पीनेस मिलता है…

12 साल में खिलने वाला फूल
Places worth seeing in Mullyana Giri
वेस्टर्न घाट में मुल्लियान गिरि और बाबा बुदन गिरि पर्वत की चोटियां देखने लायक जगहें हैं। मुल्लियान गिरि कर्नाटक की सबसे ऊंची चोटी है। इस चोटी पर संत मुल्लपा स्वामी का मंदिर है। यही वजह है कि इसका नाम मुल्लियान गिरि पड़ा है। पहाड़ी की इस चोटी की ओर जाने वाले ट्रैक से चारों तरफ पर्वत चोटियों का अनोखा नजारा देखने को मिलता है। साथ ही, सन सेट देखने के लिए भी ये जगह खास है।
बाबा बुदन गिरि पर्वत चोटी को ये नाम सूफी संत बाबा बुदन के नाम से मिला। ये जगह गदा तीर्थ के रूप में भी जानी जाती है, जहां अज्ञातवास के दौरान भीम ने मां को पानी देने के लिए अपनी गदा को विश्राम दिया था। इन चोटियों का सबसे बड़ा आकर्षण कुरुंजी नामक पौधा है। इस पौधे में 12 वर्ष में एक बार फूल खिलता है, जिसे देखने के लिए लोगों का तांता लग जाता है।

दिए गए फोटोज छुएं और अंदर स्लाइड्स में पढें मुल्लियान गिरि वॉर्थ स्पॉट् के बारे में। यहां कौन-कौन सी जगह देखने लायक हैं, आप कैसे हाजिर हाे सकते हैं, अंदर बताया गया है तस्वीरें सहित……

आपकी पसंद के ये टूर भी, बस एक क्लिक पर: शिलांग की सैर
दुनिया की सबसे नम धरती है मेघालय, एक गांव में होती है सालभर बारिश
मानसून के दिनों घूमें ये महल, हैरिटेज में मिलता अलग ही HAPPINESS
INDIA में लें स्कॉटलैंड का मजा़, देखें ये 10 जगह मोह लेंगी आपका मन

Advertisements
Categories: 》TOURISM | Tags: | Leave a comment

Post navigation

Call or paste your point here.

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / Change )

Connecting to %s

Create a free website or blog at WordPress.com.

%d bloggers like this: