जब दाऊ ने कृष्ण से पूछा-‘सबको मोह लेने वाली आपके पास कौन सी विद्या है’

Radha Krishna》जीवन दर्शन Desk: कहते हैं भगवान श्रीकृष्ण को देखते ही सब उन पर मोहित हो जाते थे। एक दिन बलराम सहज ही उनसे पूछ बैठे, आपके पास ऐसी कौन-सी विद्या है, जो सबका मन मोह लेती है। सखा व गोपियां ही नहीं, पशु-पक्षी भी आपके पास आने को लालायित रहते हैं।

मनसुख हंसकर बीच में बोला, भैया! कन्हैया जादू जानते हैं। गायें भी इन्हें देखकर हुंकारने लगती हैं। वृक्ष-लताएं इनका सान्निध्य पाते ही आनंदित होने लगती हैं। गोपियां इनकी बंसी की तान सुनते ही काम अधूरा छोड़कर भागी-भागी वन में चली आती हैं। तीसरे सखा ने कन्हैया की कमर पर धौल जमाते हुए कहा, वह जादू हमें भी सिखा दो, जिससे हमसे भी सब मिलने को आतुर होने लगें।

श्रीकृष्ण हंसकर बोले, भैया बलराम और सखाओ, मैं जादू-वादू नहीं जानता। मैंने आप सब ग्वाल-बालों, पशु-पक्षियों से प्रेम विद्या सीखी है। जड़ और चेतन से मैंने इतना अगाध प्रेम पाया है कि मेरा रोम-रोम प्रेममय हो गया है। इस प्रेम के कारण ही पशु-पक्षी भी मुझे घेरे रखने के लिए हर क्षण तत्पर रहते हैं।

शास्त्र में कहा गया है, विद्या ददाति विनयम्। अर्थात विद्या विनय यानी प्रेम की शिक्षा देती है। ज्ञान और प्रेम रूपी भक्ति में यही अंतर है कि ज्ञान अहं के कारण दूसरे को निम्न समझता है, जबकि प्रेम-भक्ति प्रभु के समक्ष या प्राणी मात्र के समक्ष विनम्र बनकर नमन करने की प्रेरणा देती है।

कृष्णकथा‘ सीरीज में हरिरस का आनंद लें
पाठकों की रुचि को देखते हुए ब्रजभूमि के प्रतिष्ठ हिंदी न्यूज पोर्टल Vijayrampatrika.com ने ब्रज काे लेकर कर्इ स्पेशल पेज लॉन्च किए हैं। जिनमें ‘हमारौ ब्रज‘, ‘झलक ब्रज की‘ और ‘कृष्ण-कथा’ के तहत आप श्रीकृष्ण व उनसे जुडी़ संपूर्ण कथाएं और धरोहरों के बारे में जानकारी पा सकेंगे। यहां आपको नियमित राधा-कृष्ण और रासलीला के संबंधित पात्रों की भी सचित्र झलक लेखों में देखने को मिलेगी।

हम नहीं जानते कि कौन बंन्धु कहां से वेब पर विजिट कर रहा है, लेकिन कितने लोगों ने किस देश से हिट् दिया है ये पता चलता रहता है। ऐसे में सभी से अनुरोध है, बने रहें साथ। देश-दुनिया की महत्वपूर्ण खबरों के अपडेशन सहित हरिरस के आनंद में भागीदार। फेसबुक पेज पर भी प्रतिक्रिया दे सकते हैं….. fb.com/vijayrampatrika

यह भी पढि़ए: कृष्णकथा की फर्स्ट कडी़ के लिए क्लिक करें
कृष्ण जन्माष्टमी से जुडी हर बात जो जानना चाहते हैं आप !
ब्रजभूमि की धरोहरों के बारे में जानने के लिए ये लिंक छुएं अभी

Advertisements
Categories: 》जीवन दर्शन | Tags: | Leave a comment

Post navigation

Call or paste your point here.

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / Change )

Connecting to %s

Blog at WordPress.com.

%d bloggers like this: