याकूब को फांसी, पाक में छिपा है मेनन, ऐसे बना था मुंबर्इ हमले का पूरा प्लान

 अब ऐसा दिखता है याकूब मेमन, बाबरी मस्जिद का लिया था इसने बदला》दुनियां 360° news Desk: देश में दहशतगर्दी के सूर और हजारों लोगों की मौत के कर्इ जिम्मेदारों को लगातार फांसी हो चुकी है। चाहे लोकतंत्र के मंदिर ”संसद” पर हमला हो, 26/11 मुंबर्इ हमला हो या 93 के सीरियल ब्लास्ट। अफजल, अजमल, याकूब जैसे गिरफ्त में आए आतंकी फांसी के तख्ते तक पहुंचा दिए गए। बेशक पाकिस्तान ने अपने इन प्यादों की कोर्इ जिम्मेदारी नहीं ली, लेकिन परोक्ष रूप आर्इएसअार्इ, वहां के राजनैतिक पार्टियां, इस्लामिक गुट और सेना ने भारत के खिलाफ साजिश रचने में कोर्इ-कोर कसर नहीं छोड़ रखी है।

Vijayrampatrika.com यहां आपको याकूब सहित उसके भार्इ मेनन द्वारा रचे उस हमले की कहानी बताने जा रहा है, जो अयोध्या में राममंदिर मसले से जुड़ी है। कथित बाबरी मस्जिद के विध्वंस के बाद कुछ इस्लामिक कट्टरपंथियों ने कैसे मुंबर्इ को दहलाया, सैकडों लोगों की जानें लीं, कैसे पाकिस्तान के सपोर्ट से अपने मिशन में वे सफल रहे, ये सब बातें जानिए इधर –

93 ब्लास्ट: ऐसे लिखी गर्इ हमले की पटकथा
बाबरी मस्जिद का था बदला
रामजन्मभूमि आयोध्या में 6 दिसंबर 1992 को कारसेवकों द्वारा कथित बाबरी मस्जिद को ढहाए जाने के बाद इस्लामिक कट्टरपंथियों ने देशभर में दंगे कराए। उस दौरान जो खुफिया जानकारी भारत सरकार को मिली थी उसके अनुसार इन घटनाओं के बाद पाकिस्तान में भी इसकी जबरदस्त प्रतिक्रिया हुई थी। पाकिस्तान की खुफिया ऐजेंसी (आर्इएसआर्इ) ने भारत की इस नाजुक हालात का फायदा उठाने के लिए हर वह काम किया जो उसे लंबे समय तक फायदा पहुंचा सके। पाक सरकार ने इस मिशन के लिए आईएसआई को खुली छूट दे दी। आईएसआई ने मुंबर्इ के गैंग सरदार दाऊद (अंडरवर्ल्ड डॉन) से संपर्क किया।

दाउद – मेनन और आर्इएसआर्इ की तिकडी़
बाबरी विध्वंस और उसके बाद के हालात का बदला लेने के लिए आईएसआई ने प्लान तैयार किया। कहा जाता है कि इस बीच दाऊद गुप्त रूप से पाकिस्तान गया। मुंबई बम धमाकों के अंजाम देने के लिए दुबई में मीटिंग हुई। मीटिंग के बाद दाऊद ने मुसलमान लड़कों को बम बनाने की ट्रेनिंग लेने के लिए पाकिस्तान भेजा। आईएसआई और दाऊद इब्राहिम ने आतंकियों को मुंबई में हथियार और गोला-बारूद मुहैया कराया। इसके बाद क्या हुआ, फोटो क्लिक करके पूरी कहानी पढें अंदर स्लाइड्स में.

Advertisements
Categories: 》धडा़धड़ खबरें | Tags: | Leave a comment

Post navigation

Call or paste your point here.

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / Change )

Connecting to %s

Create a free website or blog at WordPress.com.

%d bloggers like this: